पदमश्री अनूप जलोटा ने रविन्द्र जैन की आखिरी दो एल्बम चाहे राम भजो चाहे श्याम और जपले प्रभु का नाम बांद्रा में लांच किया। 

 एल्बम चाहे राम भजो चाहे श्याम रविन्द्र जैन की आखिरी एल्बम है जिसमे इन्होंने ना केवल गीत गाया है बल्कि भजन लिखे हैं और संगीत भी दिया है। ये एल्बम श्री राम और श्री कृष्णा को समर्पित है।  इस एल्बम में रविन्द्र जैन के अलावा तरन्नुम मलिक ,पदमा जोगलेकर ,सतीश देहरा ,दीपमाला और मीनल जैन ने भजन गाये हैं।इस एल्बम को रिलीज़ किया अनूप जलोटा ,आयुष्मान ,दिव्या जैन और निर्मला जैन ने। 

m_anup-jalota-3 m_anup-jalota-2

m_anup-jalota-1m_anup-jalota-4

दूसरी एल्बम जपले प्रभु का नाम को लिखा है जानीमानी लेखिका निर्मला जैन ने ,संगीत दिया था रविन्द्र जैन ने। इस एल्बम में रविन्द्र जैन के साथ तरन्नुम मलिक ,पूनम राज ,पियशि सेनगुप्ता ,तृप्ति शाक्या और मेहक मोंगा ने भजन गाया है। इन दोनों एल्बम को आर जे सिरीज़ ने रिलीज़ किया है। इस कंपनी को रविन्द्र जैन और उनकी पत्नी दिव्या जैन ने कई साल पहले शुरू किया था। 

ये एल्बम यूट्यूब ,सावन ,गाना ,आई ट्यून्स पे उपलब्ध है। ज़्यादा जानकारी के लिए वेबसाइट  -www.ravindrajaingroup.com पर लॉग ऑन करें। 

Comments are closed.